केजरीवाल ने चुनाव से पहले ही हार मानी

हारने के डर से DU छात्रसंघ चुनाव नहीं लड़ेगा AAP का छात्र संगठन CYSS

08 Jul 2016 |  343

पंजाब, गोवा, गुजरात और शायद प्राइम मिनिस्टर की कुर्सी पर नज़र जमाये केजरीवाल सरकार ने अपने वर्तमान स्थिति का आकलन करते हुए निर्णय लिया है कि आम आदमी पार्टी के छात्र संग़ठन CYSS (छात्र युवा संघर्ष समिति ) इस साल दिल्ली विश्वविद्यालय का छात्र चुनाव नहीं लड़ेगी. सूत्रों की मानें तो कमजोर तैयारी की वजह से आम आदमी पार्टी के नेताओं ने छात्र संघ चुनाव लड़ने के लिए हरी झंडी नहीं दी है. इस बीच CYSS अपने विरोधी संगठन ABVP और NSUI का तोड़ निकालने में असफल नजर आई है. हालांकि CYSS का कहना है कि चुनाव लड़ने की बजाय उनका संगठन इस साल DU छात्र संघ चुनाव में ताकत और पैसे के गलत इस्तेमाल के खिलाफ कैंपेन करेगा. बीते साल दिल्ली विश्वविद्यालय के छात्रसंघ चुनावों में CYSS को चारों लीट पर बुरी तरह हार का सामना करना पड़ा था. खुद मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल चुनावी चेहरा बने थे. लेकिन इसका कोई फायदा नहीं हुआ. इसके अलावा हाल ही में नगर निगम के उपचुनाव में भी आम आदमी पार्टी से लोगों का मोहभंग होते देखा गया. माना जा रहा है कि पार्टी की लोकप्रियता कम होने की वजह से CYSS कोई रिस्क नहीं लेना चाह रहा है. जिस वजह से उसने स्टूडेंट यूनियन इलेक्शन न लड़ने का फैसला किया है.

ट्रेंडिंग